Tulsi ke fayde। Health benefits tulsi। तुलसी के गुण महत्व फायदे उपयोग - nanoworld

Latest

Translate

Tulsi ke fayde। Health benefits tulsi। तुलसी के गुण महत्व फायदे उपयोग

 तुलसी के गुण महत्व फायदे उपयोग - हिंदी में

तुलसी के पौधे को आपने अक्शर घरो में गमले में जरूर देखा होगा। तुलसी का पौधा हमारे स्वस्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं। तुलसी अधिकतर समय ऑक्सीजन छोड़ती हैं। जो हमारे वातावरण के लिए बहुत उपयोगी हैं। आयुर्वेदा में तुलसी के बहुत से लाभ बताये गए हैं।

तुलसी के गुण महत्व फायदे उपयोग

         

 Holy Basil scientific name तुलसी का वैज्ञानिक नाम Ocimum tenuiflorum हैं। तुलसी के पत्तों का रस शहद और अदरक के साथ मिलाकर पीने से  दमा, इन्फ्लूएंजा, खांसी और जुकाम में असरकारक होता है। उच्च रक्तचाप को कम करने और इसके उच्च एंटीऑक्सिडेंट गुणों के कारण हृदय रोगों के उपचार और रोकथाम पर गहरा प्रभाव पड़ता है।



घर में तुलसी का महत्व

घर के अंगना में पवित्र तुलसी का पौधा लगाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ जाता हैं। तुलसी का पौधा दिन में अधिकतर समय ऑक्सीजन प्रदान करता रहता हैं। जो की हमारे स्वस्थ्य के लिए बहुत ही उपयोगी हैं। तुलसी घर में लगाने से कई प्रकार के वास्तु दोसो से भी मुक्ति मिलती हैं।  

तुलसी कितने प्रकार की होती है?

 तुलसी के प्रकार

तुलसी बहुत प्रकार की होती हैं। लेकिन पांच प्रकार की तुलसी को आयुर्वेदा में विशेष औसधिया गुण से भरपूर बताया गए हैं। पांच प्रकार की तुलसी के नाम ये हैं:-
  •  श्यामा तुलसी
  •  बिमला तुलसी 
  •  वन  तुलसी
  •  विष्णु तुलसी
  •  निम्बू तुलसी  

तुलसी के फायदे  Health benefits of tulsi 

  • प्राकृतिक प्रतिरक्षा बूस्टर
  • गुर्दे की पथरी और  गठिया में उपयोगी
  • सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे
  • चेहरे के लिए तुलसी के फायदे

प्राकृतिक प्रतिरक्षा बूस्टर

तुलसी में विटामिन सी और जस्ता भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। इस प्रकार यह एक प्राकृतिक प्रतिरक्षा बूस्टर के रूप में कार्य करता है। तुलसी में बहुत से एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुण होते हैं। जो हमें कई तरह के संक्रमणों से बचाते हैं। तुलसी के पत्तों का अर्क  हेल्पर कोशिकाओं की गतिविधि को बढ़ाता है जिससे सरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है। 

गुर्दे की पथरी और  गठिया में उपयोगी

तुलसी शरीर को डिटॉक्स करता है और इसमें मूत्रवर्धक गुण होते हैं। यह शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है, जो कि गुर्दे की पथरी बनने का मुख्य कारण है। यूरिक एसिड के स्तर में कमी से गठिया से पीड़ित रोगियों को भी राहत मिलती है।

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे

क्या आप जानते हैं कि तुलसी का सेवन कैसे करना चाहिए? और सुबह  खाली पेट तुलसी के पत्ते खाने से क्या होता है? सुबह खाली पेट करें तुलसी के सेवन की विधि:- सुबह खाली पेट तुलसी के पांच से सात पत्तों चूसें या फिर आप इनका रस भी पी सकते हैं। इससे इस्तेमाल से सर्दी-खांसी से राहत मिलती है।

हमारे  इम्यून सिस्टम को  बेहतर बनाने में तुलसी बहुत उपयोगी होती है। तुलसी के सेवन से मानसिक तनाव भी दूर होता है। मानसिक तनाव को दूर के लिए आप तुलसी के पांच से सात पत्तों का रोज दिन में दो बार सेवन कर सकते  है।
  • तुलसी के पत्ते चेहरे पर लगाने से क्या होता है?

चेहरे के लिए तुलसी के फायदे  

 तुलसी (Holy Basil) के पत्तो में मोजूद ऐंटी ऑक्सिडेंट्स चेहरे के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। तुलसी के पेस्ट को  त्वचा पर लगाने से यह त्वचा  की गहरी सतह तक  में मौजूद विषैले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करती  हैं। तुलसी के इस्तेमाल से खून में मौजूद गंदगी साफ हो जाती है और चेहरे पर ग्लो आता है। चेहरे पर दाग-धब्बे और कील-मुंहासो के लिए रोजाना तुलसी की पत्तियो का पेस्ट लगाएं। 
  • तुलसी का सेवन कैसे करें?

तुलसी सेवन की विधि

तुलसी के पत्तों को कच्चा तथा पौधे से ताजा सेवन करना बहुत फायदेमंद होता हैं। आप  इसे अपनी चाय में डाल कर भी उपयोग कर सकते हैं।तुलसी के पत्तों को कच्चा तथा पौधे से ताजा सेवन करना बहुत फायदेमंद होता हैं। आप  इसे अपनी चाय में डाल कर भी उपयोग कर सकते हैं।  

तुलसी की चाय

 तुलसी की चाय बनाने के लिए, 1 कप पानी को उबालें और इसमें 1 चम्मच ताजा तुलसी के पत्ते या १/2 चम्मच सूखे तुलसी के पत्ते या 1/3 चम्मच तुलसी पाउडर डालें। एक बर्तन में पानी को ढक दें    और इसे 15-20 मिनट के लिए उबलने दें। यदि संभव हो तो इसमें शहद डालें और आनंद लें। इस्तेमाल के लिए तुलसी पाउडर और सप्लीमेंट  बाजार भी में उपलब्ध हैं।

तुलसी के साइड इफेक्ट्स

तुलसी के सेवन के साइड इफेक्ट्स जो आपको जरूर जानना चाहिए:
  • तुलसी उन महिलाओं की प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकती है जो गर्भधारण की कोशिश कर रही हैं।
  • कुछ लोग मतली या दस्त का अनुभव करते हैं जब वे पहली बार तुलसी चाय को अपने आहार में शामिल करते हैं, इसलिए इसकी सबसे छोटी मात्रा के साथ शुरुआत करें और समय के साथ अपनी खपत बढ़ाएं।
  • तुलसी रक्त शर्करा को कम कर सकती है और इसका उपयोग उन लोगों में सावधानी के साथ किया जाना चाहिए जिन्हें मधुमेह है और रक्त-शर्करा कम करने वाली दवा इस्तेमाल करते है।
FAQ:-

 तुलसी माता की पूजा करने से क्या फायदा मिलता है?
हिन्दू  शास्त्रो के अनुसार तुलसी के पूजा करने से घर में सुख शांति तथा सम्रिधि बढ़ती हैं। तुलसी की पूजा से कई प्रकार के सारीरिक कस्टो से भी छुटकारा मिलता हैं।   
  



No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Must Read special for you

whatsapp se paise kaise kamaye in hindi

 व्हाट्सएप से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए: whatsapp se paise kaise kamaye in hindi  टॉप ट्रिक्स और स्टेप बाय स्टेप गाइड हालाँकि व्हाट्सएप खुद...