अश्वगंधा का पौधा पहचान गुण फायदे उपयोग - nanoworld

Latest

Translate

अश्वगंधा का पौधा पहचान गुण फायदे उपयोग

 अश्वगंधा का पौधा । Ashwagandha plant

अश्वगंध आयुर्वेदिक औषधि पौधा है। और ashwagandha ka paudha का उपयोग पिछले कई हजारों सालों से कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। अश्वगंधा  कई बीमारियों में सटीक औषधि है। अश्वगंधा शरीर को कई बीमारियों से ठीक करता है।
अश्वगंधा दो शब्दों से बना है अश्व + गन्धा जिसका अर्थ है घोड़े की गंध।

अश्वगंधा के पौधे से घोड़े जैसी गंध आती है। इसका वैज्ञानिक नाम विथानिया सोम्नीफेरा है। अश्वगंधा विंटर चैरी के नाम से भी जाना जाता है। ashwagandha ka paudha

अश्वगंधा की पहचान । Ashwagandha Identification

अश्वगंधा का पौधा जंगलों में अपने आप उग जाता है तथा अश्वगंधा की खेती भी की जाती है।अश्वगंधा की पहचान न होने के कारन कुछ लोग इसे बेकार झारी  ही समझाते है।अश्वगंधा के पौधे की पहचान इसके पत्ते हलके मोटे तथा पान के आकर के होते है अश्वगंधा के पौधे  की लम्बाई लगभग डेढ़ से दो फ़ीट होती है। इसके बीज लाल तथा मटर के दाने जैसे दिखते है जो की एक पत्ते के बिच लिपटे रहते।
Buy Ashwagandha Plant ashwagandha ka paudha
 Also Read:-

Health Benefits of ashwagandha अश्वगंधा के फायदे 

Ashwagandha Health benefits in hindi

अश्वगंदा बहुत ही फायदेमंद ही बहुत से बिमारीयो में अश्वगंधा दवा के रूप में प्रयोग किया जाता है। अश्वगंधा का लाभ यौन शक्ति को बेहतर बनाता है अश्वगंधा का उपयोग नींद लेने के लिए भी किया जाता है ashwagandha ke labh जिन लोगो को नींद न आने की प्रॉब्लम होती है वे अश्वगंधा का उपयोग करके अच्छी नींद ले सकते  है।

 अश्वगंधा के फायदे अश्वगंधा हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को मेन्टेन करता   है। इसलिए अश्वगंधा का इस्तेमाल हाई blood pressure वालो के लिए अच्छा है। ashwagandha benefits in hindi.

 वजन बढ़ाने के लिए अश्वगंधा के फायदे

Ashwagandha benefits for weight gain Hindi

ashwagandha ke labh यदि आप अश्वगंधा का उपयोग करके वजन हासिल करना चाहते हैं तो वजन बढ़ाने के लिए अश्वगंधा पाउडर का १/२ चमच को दूध में  मिला  कर  इस्तेमाल करना चाहिए। अश्व्गन्धा के नियमित सेवन से बॉडी में ताकत आती हैं। तथा बॉडी सक्तिसाली बनती हैं।  Buy अश्वगंधा

अश्व्गन्धा अनिद्रा के लिए आयुर्वेदिक उपचार

अनिंद्रा के लिए नींद की औषधि के रूप में अश्वगंधा कार्य करता हैं। अश्वगंधा का इस्तेमाल गहरी नींद के आसान उपायों में गिना जाता हैं। दूध के साथ अश्वगंधा के इस्तेमाल से आप कोई और नींद की औषधि नहीं लेंगे। 

अनिद्रा के लिए अश्वगंदा काआयुर्वेदिक उपचार के लिए  उपयोग किया जाता हैं। ashwagandha ke labh यदि आप को नींद अपने में परेशानी हो रहे हैं तो आप अश्वगंधा का पाउडर, टेबलेट या कैप्सूल को खा सकते हैं। 

अश्व्गन्धा अस्थमा के लिए आयुर्वेदिक दवा 

आयुर्वेदा में अश्व्गन्धा को आयुर्वेदिक सांस की दवा के रूप में प्रयोग किया जाता हैं।अश्व्गन्धा अस्थमा  के लिए अश्व्गन्धा आयुर्वेदिक दवा हैं। इसका उपयोग साँस से सम्बंधीत रोगो में बहुत लाभदायक होता हैं।

अश्व्गन्धा को अस्थमा की आयुर्वेदिक दवा तरह उपयोग कर सकते हैं। आयुर्वेदिक डॉक्टर्स अपने मरीजों को दूध के साथ अश्व्गन्धा का पाउडर या कैप्सूल इस्तेमाल के राय देते हैं। 

अश्व्गन्धा बीपी कम करने के आयुर्वेदिक उपाय

यदि आप बीपी कम करने के आयुर्वेदिक उपाय खोज रहें हैं। तो आप को बता दें की ठंड में ब्लड प्रेशर की शिकायते बढ़ जातो हैं। यदि आप को हाई बीपी की शिकायत हैं तो आप अश्वगंधा के इस्तेमाल से अपना बीपी  नार्मल कर सकते हैं। अश्वगंधा बीपी कम करने काम करता हैं। इस तरह अश्वगंधा हाई ब्लड  प्रेशर को जड़ से खत्म कर सकता हैं। 

 अश्व्गन्धा के नुकसान (दुष्प्रभाव)Side effects of Ashwagandha

अश्व्गन्धा के नुकसान (दुष्प्रभाव) low blood pressure की समस्या वालो के लिये अश्वगंधा के उपयोग हानिकारक हो सकता  है। इसलिए  तरह के लोगो को इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए। 

अश्व्गन्धा के नुकसान (दुष्प्रभाव) नियमित तथा अत्यधिक सेवन से स्वास्थ्य को नुकसान भी हो सकते हे। इसलिए अश्व्गन्धा के सेवन से पहले अपने नजदीकी आयुर्वेदिक डॉक्टर से जरूर राय ले लें। 


No comments:

Post a Comment

Popular Posts

Must Read special for you

whatsapp se paise kaise kamaye in hindi

 व्हाट्सएप से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए: whatsapp se paise kaise kamaye in hindi  टॉप ट्रिक्स और स्टेप बाय स्टेप गाइड हालाँकि व्हाट्सएप खुद...